दिवाली से पहले पटियाला बस स्टैंड के नजदीक करना था ग्रेनेड से धमाका

0
7

पटियाला.पटियाला पुलिस द्वारा वीरवार को पकड़े गए खालिस्तान गदर फोर्स के आतंकी शबनमदीप सिंह ने पुलिस पूछताछ के पहले दिन ही बड़ा खुलासा किया है। एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि शबनमदीप सिंह दिवाली से पहले पटियाला बस स्टैंड के आसपास भीड़भाड़ वाले इलाके में ग्रेनेड फेंककर बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में था।

सिद्धू ने बताया कि शबनमदीप ने बताया कि वह सोशल मीडिया के जरिए विदेशी आकाओं के संपर्क में था और उस पर दिवाली से पहलेबड़ी घटना को अंजाम देने के लिए कहा गया था। उसने बताया कि ग्रेनेड हमले की घटना को अंजाम देने पर उसे 10 लाख रुपए मिलने थे। एसएसपी ने बताया कि खालिस्तान गदर फोर्स के स्टीकर और लेटरपैड उसने और गुरसेवक सिंह ने हरियाणा के चीका से प्रिंट करवाए थे।

प्रेस कांफ्रेंस में एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि अाराेपी गोपाल सिंह चावला जाेकि पाकिस्तान गुरुद्वारा एसजीपीसी से संबंधित है ने अातंकी शबनमदीप सिंह काे दिवाली से पहले मिशन काे अंजाम देने के लिए सोशल मीडिया के द्वारा पकिस्तान में स्थित गुरुद्वारा श्री ननकाना सहिब के सीधे दर्शन भी करवा कर मिशन पूरा करने के लिए कहा था।

}यू ट्यूब से सीखा था ग्रेनेड चलाना :एसएसपी ने बताया कि शबनमदीप सिंह ने जिस ग्रेनेड से पटियाला में वारदात को अंजाम देना था वह विदेश से व्हाट्सएप द्वारा आईं फोटो के आधार पर उसने खन्ना-दोराहा नजदीक राष्ट्रीय मार्ग पर साइनबोर्ड के नजदीक जमीन में से दबा हुआ प्राप्त किया था। इसे चलाने के लिए प्रशिक्षण यू ट्यूब के माध्यम से लिया था।

}संगरूर का गुरसेवक भी केस में नामजद :
एसएसपी ने बताया कि शबनमदीप सिंह की निशानदेही पर उसके साथी गुरसेवक सिंह निवासी रतनगढ़ दिड़बा जिला संगरूर को भी केस में नामजद किया गया है। गुरसेवक पिछले दिनों डकैती की याेजना बनाते हुए कुछ साथियाें सहित गिरफ्तार किया गया है अाैर वह इन दिनों पुलिस रिमांड पर चल रहा है। उन्हाेने बताया कि अाराेपी शबनमदीप व गुरसेवक सिंह दाेनाें ही पाठी का काम करते थे।

}गुरसेवक पकड़ा जा चुका नहीं जानता था :
शबनमदीप को गुरसेवक के पकड़े जाने की उसे खबर नहीं थी अाैर वह उसकी तलाश कर रहा था जबकि उसके अाका उसपर वारदात काे अंजाम देने का दवाब बना रहे थे। एसएसपी ने बताया कि अाराेपी गुरसेवक का एक रिश्तेदार भी उसके इस काम में सहयाेग देने के लिए तैयार था। गुरसेवक का डकैती मामले का रिमांड खत्म हाेने के बाद उसे इस मामले में रिमांड पर लिया जाएगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Shabnamdeep questioned on first day