केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का 59 की उम्र में निधन, कैंसर से पीड़ित थे

0
11

बेंगलुरु.केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का सोमवार तड़के चार बजे यहांनिधन हो गया। वे 59 साल के थे। वे कुछ महीनों से कैंसर से पीड़ित थे।अक्टूबर में न्यूयॉर्क से इलाज कराकर लौटे थे। दोबारातबीयत बिगड़ने पर उन्हें बेंगलुरु के एक निजीअस्पताल में भर्ती किया गया था। उन्हेंवेंटिलेटर पर रखा गया था। उनकी पार्थिव देह बेंगलुरु स्थित घर पर अंतिम दर्शन के लिए रखी गई।

अनंत कुमार के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कईनेताओंने शोक जताया। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, “अनंत कुमार के निधन की खबर सुनकर बेहद दुख हुआ। उन्होंने भाजपा की लंबे अरसे तक सेवा की। बेंगलुरु उनके दिल और दिमाग में हमेशा रहा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे और उनके परिवार को साहस दे।”

सदानंद गौड़ा ने कहा- मेरे भाई अनंत कुमार नहीं रहे

राहुल गांधी ने शोक व्यक्त किया

आज राष्ट्रध्वज आधा झुका रहेगा
केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुताबिक, अनंत कुमार के निधन पर सोमवार को देशभर में राष्ट्रध्वज आधा झुका रहेगा। वहीं, कर्नाटक सरकार ने राज्य में तीन दिन का शोक और सोमवार का अवकाश घोषित किया है। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

अनंत के पास दो विभागों का प्रभार था

कुमार के पास दो मंत्रालय की जिम्मेदारी थी। वे 2014 से रसायन एवं उर्वरकमंत्री थे। इसके अलावा वे जुलाई 2016 से संसदीय मामलों के मंत्री भी थे। अनंत 1996 से बेंगलुरु दक्षिण से लोकसभा के सदस्य थे। उनका जन्म 22 जुलाई 1959 को बेंगलुरु में हुआ था। उन्होंने केएस ऑर्ट कॉलेज हुबली से बीए किया था। इसके बाद जेएसएस लॉ कॉलेज से एलएलबी की थी। उनके परिवार में पत्नी तेजस्विनी, दो बेटियां ऐश्वर्या और विजेता हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

अनंत कुमार के पास दो विभागों का प्रभार था। -फाइल
अंतिम दर्शन के लिए अनंत कुमार की पार्थिव देह बेंगलुरु स्थित उनके निवास पर रखी गई।