अलग-अलग हिस्सों को जोड़कर 36 घंटे में तैयार किए जा रहे घर, ट्रकों से डिलीवरी

0
8

लंदन. ब्रिटेन में पहले से निर्मित घरों (प्रीफैब) का चलन तेजी से बढ़ रहा है। ये ऐसे घर होते हैं, जिनके हिस्से अलग-अलग तैयार किए जाते हैं। मसलन बेडरूम, किचन, बाथरूम सभी को अलग-अलग डिजाइन में तैयार किया जाता है। बाद में उन्हें ग्राहक की पसंद के मुताबिक सेट कर दिया जाता है। जॉब में एक जगह से दूसरी जगह पलायन करने वाले युवाओं में इस तरह के घर काफी पसंद किए जा रहे हैं।

यॉर्कशायर शहर की इल्क फैक्ट्री ने ऐसे ही प्रीफैब घरों का निर्माण शुरू कर दिया है। एक 3 बेडरूम घर की कीमत 65 हजार पाउंड (करीब 59 लाख रुपए) रखी गई है। हालांकि, इनमें जमीन का दाम शामिल नहीं है। घरों के अलग-अलग हिस्से आराम से ट्रक पर लादकर ग्राहक तक पहुंचाए जा रहे हैं। इन्हें बाद में तय जगह पर मकान मालिक के पसंदीदा डिजाइन के हिसाब से रख दिया जाता है।

नौकरीपेशा लोगों की दिक्कत खत्म करेंगे यह घर
एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह ब्रिटेन में आर्किटेक्चर का नया आयाम है। पारंपरिक तौर पर घरों को बनाने में 40 हफ्ते तक का समय लग जाता है, लेकिन इस तरह के घरों को बनाने में महज 10 दिन लग रहे हैं। एक बार लॉरी से लोकेशन तक पहुंचाए जाने के बाद इन्हें पूरी तरह असेंबल करने में सिर्फ 36 घंटे का समय लगता है।

कंपनियों में लगी घर बनाने की होड़
रीफैब घर बनाने वाली कंपनी इल्क होम्स का कहना है कि वह हर साल 2 हजार घर बनाएगी। बाद में मांग बढ़ने के साथ इनकी संख्या 5 हजार कर दी जाएगी। एक और कंपनी लीगल एंड जनरल इंश्योरेंस ने भी लीड्स शहर में एक साल के अंदर ऐसे 3500 घरों के निर्माण की बात कही है।

गृह निर्माण मंत्री ने प्रीफैब घरों की तारीफ की
ब्रिटेन के गृह निर्माण मंत्री जेम्स ब्रोकेनशायर के मुताबिक, प्रीफैब होम्स सरकार के हर साल 3 लाख घर बनाने के लक्ष्य को पूरा करने में मददगार साबित होंगे। पिछले साल इंग्लैंड में 2.2 लाख घर बन पाए थे। इस तरह लोगों को पारंपरिक घरों का बढ़िया विकल्प मिलेगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

इन प्रीफैब घरों को असेंबल करने में महज 36 घंटे का वक्त लगता है।
नौकरीपेशा लोगों के लिए इस तरह के घर मुफीद बताए जा रहे हैं। इन्हें पैक कर नई जगह ले जा सकते हैं।